धर्म-संस्कृति

मंडी शिवरात्रि महोत्सव इस बार आपके लिए होगा बहुत खास, पढ़िए पूरी खबर

खबर को सुनें

मंडी। इस बार मंडी का अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव हिमाचल प्रदेश के पूर्ण राज्यत्व के स्वर्ण जयंती वर्ष के उपलक्ष्य में विशेष धूमधाम से मनाया जाएगा। राज्य सरकार ने प्रदेश में स्वर्णिम हिमाचल की थीम के साथ वर्षभर विविध कार्यक्रम करने का निर्णय लिया है। मंडी का शिवरात्रि महोत्सव भी इसी रंग से सराबोर दिखेगा। 12 से 18 मार्च तक मनाए जाने वाले इस महोत्सव का शुभारम्भ मुख्यमंत्री श्री जय राम ठाकुर करेंगे। वे 12 मार्च को प्रथम जलेब की अगवानी करेंगे।यह जानकारी उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने शनिवार को आयोजित प्रेसवार्ता में दी।




उन्होंने कहा कि मध्य जलेब 15 मार्च को निकाली जाएगी, जिसमें जलशक्ति मंत्री श्री महेद्र सिंह ठाकुर भाग लेंगे। तीसरी और अन्तिम जलेब में 18 मार्च को राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय शामिल होंगे।




पहली जलेब में पारंपरिक परिधानों में आएं लोग’

ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि इस बार जलेब को अधिक आकर्षक बनाने के प्रयास किए गए हैं। उन्होंने महोत्सव की पहली जलेब में लोगों से अपनी परंपरागत परिधानों में आने का आह्वान किया। उन्होंने आग्रह किया कि लोग अपने-अपने क्षेत्र की पुरातन संस्कृति के अनुरूप पहनावे में जलेब में शामिल हों, जिससे जलेब हिमाचली संस्कृति के विविध रंगों से सजी दिखे।जलेब में अन्य आकर्षणों के अलावा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत जागरूकता रथ भी शामिल किया जाएगा।उन्होंने कहा कि प्रशासन जन सहयोग से जलेब की पुरातन परंपरा को सहेजने और बढ़ाने को प्रतिबद्ध है। स्वागत समिति के सभी सदस्य जलेब के उपरांत वापिसी में भी राज देवता माधो राय जी की पालकी के साथ रहेंगे। महोत्सव के लिए मंदिरों की विशेष सजावट की जाएगी।




शिवरात्रि हवन में शामिल होने का आग्रह

उपायुक्त ने कहा कि राज देवता माधो राय मंदिर प्रांगण में करवाए जाने वाले शिवरात्रि हवन में भी जनभागीदारी बढ़ाने और इसे बड़े स्तर पर आयोजित करने का प्रयास है। उन्होंने मंडी वासियों से 11 मार्च को प्रातः 8 बजे मंदिर प्रांगण में पधार कर शिवरात्रि हवन में शामिल होने का आग्रह किया है।




216 देवी देवताओं को निमंत्रण

उपायुक्त ने कहा कि पिछली बार की तरह इस बार भी 216 पंजीकृत देवी देवताओं को महोत्सव में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया है। मंडी आने वाले देवी देवताओं, कारदारों और देवलुओं की सुविधा के लिए सभी आवश्यक प्रबन्ध कर लिए गए हैं।




‘री-लिव दी पास्ट’

ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि महोत्सव में इस बार इंदिरा मार्केट की छत पर अतीत को जीवंत बनाती ‘री-लिव दी पास्ट’ नाम से एक बड़ी प्रदर्शनी भी लगाई जा रही है। यह मेले का एक बड़ा आकर्षण होगी। इसमें पहाड़ी जीवन शैली, मंडी की पुरातन कला, संस्कृति, इतिहास की स्वर्णिम आभा दिखाने व उसे जीवंत बनाने के लिए विशेष प्रयास किए जाएंगे।इसके अलावा पड्डल में लगने वाली विभागीय प्रदर्शनी में हिमाचल की 50 साल की स्वर्णिम विकास यात्रा को इंफो ग्रैफिक्स और अन्य तरीकों से प्रदर्शित करने की व्यवस्था की जाएगी। पड्डल में सरस मेला का भी आयोजन किया जाएगा।




आर्थिक गतिविधियों को मिलेगी रफ्तार

उपायुक्त ने कहा कि शिवरात्रि महोत्सव से क्षेत्र में आर्थिक गतिविधियों को नई रफ्तार मिलेगी। स्थानीय उद्यमियों और स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं को काम काज के लिए उपयुक्त अवसर मिलेंगे। इससे आर्थिक मजबूत होगी।




संग्रहणीय होगी शिवरात्रि महोत्सव की स्मारिका

अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव मंडी-2021 की स्मारिका स्वर्णिम हिमाचल की थीम पर केंद्रित होगी । स्मारिका में हिमाचल की 5 दशकों की विकास यात्रा और इसमें मंडी जिला की भूमिका पर आधारित लेखों का प्रकाशन किया जाएगा। यह स्मारिका लोगों के लिए संग्रहणीय होगी।




महोत्सव में सामाजिक संदेशों के प्रसार पर रहेगा जोर

महोत्सव में सामाजिक संदेशों के प्रसार पर विशेष जोर दिया जाएगा। जनजागरूकता के लिए विशेष आयोजन किए जाएंगे। महोत्सव में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ और नशा मुक्ति जैसे अभियानों के तहत विविध गतिविधियां की जाएंगी। नशा मुक्ति जैसे संदेश के साथ शहर में हर दिन अलग अलग जगह ‘फ्लैश मॉब’ आयोजित किए जाएंगे।




हिमाचली कलाकार बिखेरेंगे गायकी का जादू, पंजाबी स्टार सिंगर भी मचाएंगे धमाल

उपायुक्त ने कहा कि महोत्सव में सांस्कृतिक संध्याओं में हिमाचली कलाकारों को प्राथमिकता देने पर बल दिया गया है। प्रत्येक सांस्कृतिक संध्या में हिमाचली कलाकारों के कार्यक्रम होंगे।उपायुक्त ने बताया कि 12 मार्च को प्रसिद्ध हिमाचली गायक सुनील मस्ती और ए.सी.भारद्वाज अपनी गायिकी से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध करेंगे। 13 को हिमाचल के कुमार साहिल अपनी प्रस्तुति देंगे, वहीं पंजाबी स्टार गायक गुरूनाम भुल्लर अपनी गायिकी से धमाल मचाएंगे। 14 को अनुज शर्मा और नाटी किंग कुलदीप शर्मा, 15 को अर्शप्रीत कौर और पहाड़ी गायक नरेंद्र ठाकुर, 16 को इंद्रजीत और इंडियन आइडल फेम अंकुश भारद्वाज अपनी प्रस्तुति देंगे। 17 मार्च को अनाथ व विशेष बच्चों के साथ फैशन शो का आयोजन किया जाएगा। वहीं, 17 को पंजाबी स्टार सिंगर मिलिंद गाबा अपनी गायकी का जादू बिखेरेंगे।




‘आई लव मंडी’ सेल्फी वॉल

उन्होने कहा कि इंदिरा मार्केट की छत पर ‘आई लव मंडी’ सेल्फी वॉल व सेल्फी स्पॉट बनाया जाएगा। महोत्सव के दौरान स्वच्छता व्यवस्था को दुरूस्त रखने के लिए सभी जरूरी इंतजाम किए गए हैं। लोगों के लिए जगह जगह हाथ धोने की व्यवस्था रहेगी।

महोत्सव में खेलकूद प्रतियोगिताएं

उपायुक्त ने कहा कि महोत्सव में विविध खेलकूद प्रतियोगिताएं आयाजित की जाएंगी। मुख्य आकर्षण छिंज के अलावा कबड्डी, रस्साकसी, बॉलीवॉल, बास्केटबॉल और रंगोली का आयोजन किया जाएगा। मेले में महिला कुश्ती प्रतियोगिता भी आयोजित की जाएगी। इसके अलावा कबड्डी में भी महिला टीमें भाग लेंगी। हॉकी और फुटबॉल प्रतियोगिताएं मेले से पहले करवाई जा रही हैं।




ध्यान रहे..कोरोना अब भी चुनौती, सावधानी बरतें

कोरोना संक्रमण की चुनौती अभी भी बरकरार है। यह पूरे समाज की साझी जिम्मेदारी है कि महोत्सव पर इसकी छाया न पड़े। इसलिए बचाव के लिए सभी जरूरी सावधनियां बरतना व सरकार के दिशा निर्देशों का पालन करना बेहद जरूरी है। प्रशासन सुनिश्चित बनाएगा कि मेले में आने वाले सभी लोग सही तरीके से मास्क पहनें।




मास्क है बचाव का कारगर उपाय

उपायुक्त ने कहा कि हर समय मास्क पहने रखना कोरोना से बचाव का कारगर उपाय है। कोरोना को लेकर एक साल का अनुभव इस बात को साबित करता है। उन्होंने कहा कि पूरे कोरोना संकट काल में एक भी दिन के लिए डीसी ऑफिस बंद नहीं हुआ। इसका एक बड़ा कारण यह है कि सब अधिकारियों-कर्मचारियों ने ऑफिस में मास्क पहने रखने के नियम का पूरा पालन किया।उन्होंने जनता से शिवरात्रि मेले में हर समय मास्क पहने रखने के नियम का पालन करने की अपील की।




इस दौरान अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी श्रवण मांटा, सहायक आयुक्त संजय कुमार, लोक संपर्क विभाग की उपनिदेशक मंजुला कुमारी, जिला राजस्व अधिकारी राजीव सांख्यान सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।



Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button