सोलन, सिरमौर, ऊनाहिमाचल

ऊना जिला की सड़कें अप्रैल तक बेसहारा गौवंश मुक्त होंगी : वीरेंद्र कंवर

खबर को सुनें
ऊना। डोहगी में आयोजित बसंत उत्सव अनुष्ठान में ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, मत्स्य, कृषि व पशु पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने पूर्ण आहुति डाली। इस कार्यक्रम का आयोजन आज पंडित ब्रह्मानंद धर्मार्थ सभा के सौजन्य से किया गया था। मंत्री ने बसंत पंचमी की शुभकामानाएं देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर  के नेतृत्व में प्रदेश सरकार गौवंश के सरंक्षण व संवर्धन के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि 28 फरवरी को गौवंश आयोग गठन के दो वर्ष पूर्ण होने वाले हैं। इस अवसर पर सिरमौर व सोलन जिला को बेसहारा पशु मुक्त बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि सिरमौर व सोलन जिला में गौ अभ्यारण्य बनकर तैयार हो गए हैं जिनका शुभारंभ मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर 28 फरवरी को हांडाकुंडी में करने जा रहें हैं।



वीरेंद्र कंवर ने कहा कि इसके बाद अप्रैल माह तक ऊना, हमीरपुर व चंबा जिला में बेसहारा पशु मुक्त हो जाएंगे। इसके बाद जून में कांगड़ा, बिलासपुर व शिमला सड़कों से बेसहारा गौवंश को हटाकर गौशालाओं में पहंुचाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस प्रकार अगले एक वर्ष में सम्पूर्ण हिमाचल प्रदेश को बेसहारा पशु मुक्त बनाने का लक्ष्य रखा गया है। मंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश देश का पहला बेसहारा पशु मुक्त राज्य बनेगा। कार्यक्रम के दौरान ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज वीरेंद्र कंवर ने चार बार विधायक बनाने के लिए कुटलैहड़ की जनता का धन्यवाद करते हुए कहा कि कुटलैहड़ के लिए ये स्वर्णिम अवसर है। जब यहां विकास के अभूतपूर्व विकास करवाएं जा रहें हैं। उन्होंने कहा कि पीने के पानी की समस्या को खत्म करने के लिए तथा सड़कों के सुदृढ़ीकरण के लिए 150-150 करोड़ रुपये व्यय किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि डोहगी सड़क को प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनाने का प्रयाय किया जा रहा है। मंत्री ने कहा कि लगभग 20 करोड़ रुपये की लागत से बंगाणा में मिनी सचिवालय तथा 10 करोड़ रूपये की लागत से ब्लाॅक भवन का निर्माण कार्य युद्ध स्तर पर जारी है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सुविधाओं को सुदृढ़ बनाने के लिए बंगाणा अस्पताल 50 बैड का बनाया गया है और आज यहां पर चार डाॅक्टर कार्यरत है।



इस अवसर पर डोहगी की प्रधान कमलेश, उप प्रधान राजेश कुमार, मुच्छाली के प्रधान विजय शर्मा, उप प्रधान अजय शर्मा, जिला परिषद उपाध्यक्ष कृष्णपाल शर्मा, हिमफैड के निदेशक चरणजीत, भाजपा प्रदेश किसान मोर्चा के प्रवक्ता मदन राणा, सतीश धीमान, सुशील रिंकु के साथ पंडित ब्रह्मानंद धर्मार्थ सभा के अध्यक्ष आरसी शर्मा, सचिव बीपी कश्यप सहित सभा के अन्य सदस्य उपस्थित रहे।



Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button