सोलन, सिरमौर, ऊनाहिमाचल

पीने के पानी के दुरुपयोग पर होगी कार्रवाई, ग्रामीण विकास मंत्री ने दिए आदेश

खबर को सुनें
ऊना। जल शक्ति विभाग पेयजल का दुरूपयोग करने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई अमल में लाए। यह बात ग्रामीण विकास, पंचायती राज, कृषि, मत्स्य तथा पशु पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने आज थाना कलां में आयोजित एक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए कही।
वीरेंद्र कंवर ने कहा कि कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र में लगभग 150 करोड़ रुपए पानी की परियोजनाओं पर खर्च किए जा रहे हैं, इसलिए गर्मी के मौसम में किसी को पानी की समस्या नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पेयजल का उपयोग गृह निर्माण में करने, पेयजल लाइन से टुल्लू पंप लगाने, पेयजल का उपयोग सिचाई के लिए करने व जरूरत से ज्यादा पेयजल का भंडारण करने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि बिना नोटिस दिए पानी के कनेक्शन काट दिए जाएं तथा उनसे जुर्माना भी वसूला जाए।



ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने कहा कि जल शक्ति विभाग के वाटर गार्डों की जवाबदेही भी सुनिश्चित की जाएगी, ताकि सभी क्षेत्रों में पानी की बंटवारा बराबर हो सके। कंवर ने कहा कि पानी की कई स्कीमें पूर्ण हो चुकी है और कुछ परियोजनाओं पर युद्ध स्तर पर कार्य चल रहा है। क्षेत्र में पानी की भरपूर उपलब्धता है, लेकिन लोग पानी की बर्बादी न करें।
वीरेंद्र कंवर ने लोगों से भी आग्रह करते हुए कहा कि पेयजल का दुरुपयोग न करें और पानी बचाएं, ताकि सबको पानी मिल सके। उन्होंने लोगों से सहयोग करने की अपील की। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने कुटलैहड़ में निर्माणाधीन पेयजल तथा सिंचाई परियोजनाओं के बारे में जानकारी हासिल की। इसके अतिरिक्त उन्होंने विद्युत तथा लोक निर्माण विभाग की स्कीमों की भी समीक्षा की और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। बैठक में अधिशाषी अभियंता पीडब्ल्यूडी शशि धीमान, एसडीओ जल शक्ति विभाग हरभजन सिंह सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।



Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button