बिलासपुर, चंबा, हमीरपुरहिमाचल

बिलासपुर में 4 करोड़ से बनेगा अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का स्पोर्ट्स हाॅस्टल : राकेश पठानिया

खबर को सुनें

बिलासपुर । जिला बिलासपुर में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का 4 करोड़ धनराशि से स्पोर्टस हाॅस्टल का निर्माण करवाया जाएगा जिसके लिए 2 करोड़ की धनराशि मंजूर की गई है। यह वाक्य वन युवा सेवाएं एवं खेल मन्त्री राकेश पठानिया ने जिला बिलासपुर में लुहणू इन्डोर स्टेडियम में चेतना संस्था द्वारा आयोजित स्पेशल आलम्पिक भारत के पांच दिवसीय राष्ट्रीय फ्लोरबाॅल कोचिगं कैम्प में बतौर मुख्यतिथि शिरकत करते हुए कहें। इस प्रतियोगिता में 16 राज्यों के 120 खिलाडीें भाग ले रहे है। खेल मन्त्री ने अपने सम्बोधन में कहा कि जल्द ही प्रदेश में नई खेल नीति को अमलीजामा पहनाया जा रहा है जिसमे स्पेशल आलम्पिक से जुड़ी खेलों को भी शामिल कर अधिमान दिया जाएगा। उन्होनें कहा कि स्पेशल आलम्पिक खेलों से सम्बन्धित नये अवार्ड का नाम भी चेतना संस्था के नाम से दिया जाएगा जिसमें स्वर्ण विजेता को 2 लाख, रजत को डेढ लाख व कांस्य पदक विजेता को 1 लाख रूपये की नगद राशि देने का प्रावधान किया जाएगा।



खेल मन्त्री राकेश पठानिया ने कहा कि इनवैस्टर मीट मे भी शीत खेलों से सम्बन्धित नीदरलैड व जर्मनी के साथ हिमाचल को स्नो गेम्स डैस्टीनेशन बनाने के लिए भी एमओयु साइन हुआ है जिसके अन्तर्गत राष्ट्रीय स्तर की खेलें इस वर्ष व एशियन स्तर की खेले अगले वर्ष आयोजित करने की रूप रेखा पर कार्य किया जा रहा है। उन्होने कहा कि प्रदेश में राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय शीत खेलों के अयोजन के मकसद से शिमला ,मनाली तथा धर्मशाला में तीन आईस स्केटिंग स्टेडिम का भी निर्माण करवाया जाएगा। कार्यक्रम में अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर अन्तराष्ट्रीय कबड्डी खिलाडी निधी शर्मा का तथा स्पैशल आलम्पिक में विजेता रही शिवाजली, ऊषा, पूजा कुमारी को शाॅल एवं टोपी पहना कर खेल मन्त्री ने सम्मानित किया।  इस अवसर पर खेल मन्त्री ने चेतना संस्था द्वारा स्पेशल ओलम्पिक फ्लोर बाल कोचिंग के आयोजन के लिए 4 लाख रूपये अपनी ऐच्छिक निधी से देने की घोषणा भी की। इस अवसर पर स्पैशल ओलम्पिक भारत की राज्य अध्यक्षा एवं चेतना संस्था की अध्यक्षा डा0 मल्लिका नडडा ने खेल मन्त्री राकेश पठानिया का स्वागत करते हुए कहा कि स्पैशल ओलम्पिक एक राष्ट्रीय महासंघ है जो मानसिक रूप से अक्षम बच्चों की गत 16 बर्षों से 18 सहयोगी संस्थाओं के साथ मिलकर इन विशेष बच्चों के लिए प्रदेश में शीत कालीन खेलें मनाली एवं नारकण्डा में आयोजित करने वाला देश में प्रथम संचालक राज्य है। उन्होने कहा कि स्पैशल ओलम्पिक में प्रदेश ने चार विश्व स्तरीय ग्रीष्मकालीन खेल कूद प्रतियोगिताओं में तीन विश्व स्तरीय शीतकालीन खेलकूद प्रतियोगिताओं मे भाग लिया है जिसमें अब तक 29 स्वर्ण 23 रजत एव 26 कांस्य पदक शामिल है। डा0 मल्लिका नडडा ने कहा कि स्पैशल ओलम्पिक की आठवी विश्व स्तरीय शीतकालीन खेलकूद प्रतियोगिताए 22 से 28 जनवरी 2022 में कजान रशिया में आयोजित की जाएगी जिसमें विश्व के लगभग 108 देशों के 2000 विशेष खिलाडी 10 विभिन्न खेल कूद प्रतियोगिताओं भाग लेगें।



इस अवसर पर बोलते हुए सदर विधायक सुभाष ठाकुर ने खेल मन्त्री का बिलासपुर में स्पोर्टस होस्टल खोलने के लिए धन राशि स्वीकृत करने के लिए विशेष रूप से आभार व्यक्त किया उन्होने कहा कि इसके लिए भूमि चयन की प्रकिया को प्रशासन से जल्द पूरा करवाकर निर्धारित समय पर कार्य का पर्ण करने के भरसक प्रयत्न किये जाएगें।
इस कार्यक्रम में क्षेत्रीय निदेशक स्पेशल आलम्पिक भारत हिमाचल प्रदेश परीक्षत महोदया ने फ्लोर बाॅल कोचिंग की गतिविधियों के बारे में जानकारी दी। इस अवसर पर मुख्य मन्त्री के राजनीतिक सलाहकार एवं भाजपा प्रदेश महामन्त्री त्रिलोक जम्बाल भी विशेष रूप से उपस्थित रहें। जिला अध्यक्ष स्पेशल आलम्पिक ब्रिगेडियर जे0आर0 वर्मा, उपायुक्त रोहित जम्वाल, पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा एसडीएम रामेश्वर दास, सहायक आयुक्त सिदेश्वर शर्मा व अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे।


Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button