हिमाचल

महिलाओं का सम्मान संपूर्ण समाज का दायित्व : देवाश्वेता बनिक

खबर को सुनें

हमीरपुर । उपायुक्त देवाश्वेता बनिक ने कहा है कि महिलाओं के सशक्तिकरण और उनकी भागीदारी के बगैर हम किसी भी समाज और देश के विकास की कल्पना नहीं कर सकते हैं। अगर किसी समाज में महिलाएं किन्हीं कारणों से पीछे रह जाती हैं तो वह समाज भी पिछड़ जाता है। सोमवार को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य पर यहां टाउन हॉल में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत करते हुए उपायुक्त ने कहा कि महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पुरुषों से कम नहीं हैं।  देवाश्वेता बनिक ने कहा कि आधुनिक दौर में भी महिलाएं कहीं न कहीं असमानता, भेदभाव और अत्याचार का शिकार हो रही है। यही कारण है कि हमें आज भी महिला दिवस मनाकर महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरुक करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि महिलाएं हमारी आबादी का आधा हिस्सा हैं और अगर हम अपने आम जनजीवन में महिलाओं के योगदान को देखें तो हर दिन महिला दिवस ही लगता है। इसलिए, हमें खुद में यह सोच विकसित करनी होगी कि महिलाओं के बगैर हमारा समाज अधूरा है और वे उच्च सम्मान की अधिकारी हैं।



सभी महिलाओं को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की शुभकामनाएं देते हुए उपायुक्त ने कहा कि महिला सशक्तिकरण और जागरुकता कार्यक्रमों में पुरुषों विशेषकर युवाओं की भागीदारी भी होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि महिलाओं के अधिकारों की रक्षा और उनका सम्मान सुनिश्चित करना सिर्फ सरकार, विभाग और संस्थाओं का ही कार्य नहीं है, बल्कि यह तो संपूर्ण समाज का दायित्व है।  इस अवसर पर जिला कार्यक्रम अधिकारी एचसी शर्मा ने उपायुक्त का स्वागत किया तथा महिलाओं के उत्थान एवं सशक्तिकरण के लिए चलाई जा रही । विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी। कार्यक्रम के दौरान आंगनबाड़ी कर्मचारियों, त्रिवेणी कला मंच के कलाकारों और अन्य महिलाओं ने जागरुकता कार्यक्रम प्रस्तुत किए। योग की छात्रा निधि डोगरा ने योगासनों का शानदार प्रदर्शन किया। महिला मोर्चा की पदाधिकारी नीरू मिश्रा और अन्य महिलाओं ने भी महिला सशक्तिकरण पर अपनी प्रस्तुतियां दीं। कार्यक्रम का संचालन प्रदीप कुमार ने किया। इसके अलावा महिलाओं के लिए रस्साकशी प्रतियोगिता, म्यूजिकल चेयर, जलेबी दौड़ और मटका फोड़ प्रतियोगिता भी करवाई गई। उपायुक्त ने सभी प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया।



सराहनीय उपलब्धियों एवं सेवाओं के लिए महिलाओं को किया सम्मानित
जिला स्तरीय कार्यक्रम में उपायुक्त ने सराहनीय सेवाएं प्रदान करने वाली महिला अधिकारियों-कर्मचारियों और अन्य महिलाओं को सम्मानित किया। सम्मान पाने वाली महिला अधिकारियों-कर्मचारियों में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. अर्चना सोनी, जिला आयुष अधिकारी डॉ. सरिता राणा, तहसील कल्याण अधिकारी गीता मरवाहा, शीतल वर्मा, समीक्षा शर्मा, रेखा शर्मा, पूर्णिमा जमवाल, पंचायत प्रधान उषा बिरला, महिला मोर्चा अध्यक्ष राजकुमारी, कल्पना ठाकुर, नीतू ठाकुर, वंदना शर्मा, संगीता कटोच, और अन्य महिलाएं शामिल रहीं। योग की छात्रा निधि डोगरा और ड्राईविंग की प्रशिक्षु नैंसी ठाकुर को भी सम्मानित किया गया। इनके अलावा केवल बेटी को गोद लेने वाले दंपत्तियों और दो लड़कियों के बाद परिवार नियोजन को अपनाने वाले दंपत्तियों को भी उपायुक्त ने सम्मानित किया।




Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button