8.4 C
Shimla
Sunday, April 18, 2021
Home हिमाचल शिमला, मंडी, लाहौल-स्पीति अस्पताल में अब नहीं पड़ेगा ठिठुरना, पढ़िए पूरी खबर

अस्पताल में अब नहीं पड़ेगा ठिठुरना, पढ़िए पूरी खबर

केलोंग।लाहौल स्पीति के मरीजों को अब सर्दियों में अस्पताल के भीतर ठंड ठिठुरना नहीं पड़ेगा। जिला प्रशासन ने पहली बार इंफ्रारेड वॉल हिटर स्थापित कर नया प्रयास किया है जोकि सफल हो चुका है । विली कंपनी ने मुफ्त में जिला अस्पताल केलोंग यह प्रोजेक्ट लगाया है । इसके तहत एक पैनल दीवार पर लगाया जाएगा जिसकी चौड़ाई 3 भाई 2 फीट होती है और इसका वजन साढ़े 8 से 9 किलो के बीच स का वजन होता है और इसका सीधा कनेक्शन बिजली से दिया जाता है । इसे छूने पर ना तो कोई करंट लगता है और ना ही कोई दुर्गंध आती है और ना ही कोई आवाज होती है ऐसे में अस्पताल के भीतर सर्दियों में जहां उसकी के अंदर तापमान – 25 से – 30 के बीच में होता है । तो उस समय अस्पताल के भीतर गर्मी को बनाए रखने के लिए यह हीटर पैनल काफी मददगार साबित होगा। पहली बार इस तरह का प्रयास लाहुल स्पिती के अस्पताल में किया गया है। कैबिनेट मंत्री रामलाल मारकण्डा के निर्देशों के अनुसार इस प्रोजेक्ट को जिला शीश पंकज राय ने अमलीजामा पहनाया है।


50 से 70 फ़ीसदी तक कम होगा खर्च

इस बार हीटर के स्थापित होने से बिजली की खपत 50 से 70 फ़ीसदी तक कम होगी जो कि सामान्य हीटरों की तुलना में काफी कम है। ऐसे में जहां पर अस्पताल के खर्च में कमी आएगी वहीं ऊर्जा को बचाने में भी मदद मिलेगी। कम तापमान पर तेजी से यह हीटर गर्म हो जाता है और पूरे कमरे का तापमान 25 डिग्री तक मेंटेन करता है।

पहली तरह का पहला प्रोजेक्ट

कॉल हीटर अपनी तरह का पहला प्रोजेक्ट है जो कि लाहौल स्पीति में अस्पताल के भीतर स्थापित किया गया है इस तरह के हीटर लाहौल स्पीति के किसी भी सरकारी कार्यालय में आज तक स्थापित नहीं हुए हैं ऐसे में ठंडे रेगिस्तान से जाने वाले लांच की थी के लिए यह काफी सकारात्मक संकेत इस तरह के हीटर से लोगों के लिए और प्रशासनिक कार्य में कार्यालय में आएंगे मरीजों को अस्पतालों में ठिठुरना अब नहीं पड़ेगा।


जिलाधीश पंकज राय ने जानकारी देते हुए बताया कि सर्दियों के दौरान अस्पताल के अंदर तापमान माइनस में होता है और मरीजों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था मुझे काफी खुशी हो रही है कि कंपनी ने यहां पर अपना प्रोजेक्ट स्थापित करके एक नया प्रयास किया है कंपनी ने पहले इसी तरह के हीटर लेह और कारगिल में भी स्थापित कर चुकी है। लाहौल स्पीति जैसे कबायली क्षेत्र में जो कि 6 से 8 महीने तक बर्फ से ढका रहता है अस्पताल में आने वाले मरीजों के लिए इस तरह का हीटर काफी मददगार साबित होगा और अस्पताल प्रशासन के साथ-साथ सुविधा देने के लिए कारगर साबित होगा इस प्रोजेक्ट में कोई भी पैसा खर्च नहीं किया गया है कंपनी ने फ्री ऑफ कॉस्ट इसे स्थापित किया है। हमारा पायलट प्रोजेक्ट सफल हो चुका है। अब धीरे-धीरे पूरे अस्पताल में इस हीटर को स्थापित किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद कोरोना पॉजिटिव

नई दिल्ली। बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद को कोरोना हो गया है, अभिनेता ने इस बात की जानकारी अपने सोशल मीडिया के जरिए फैंस को...

कोविड के खिलाफ लड़ाई में सरकार के प्रयासों को भरपूर सहयोग दें उद्योगपतिः मुख्यमंत्री

शिमला । मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज सोलन जिले के बद्दी में  बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ इंडस्ट्रीज एसोसिएशन (बीबीएनआईए) के साथ एक बैठक की अध्यक्षता करते...

ट्रक की चपेट में आने से यहां बाइक सवार युवक की मौत

ऊना। जिला ऊना के पेट्रोल पंप के समीप हुए हादसे में बाइक सवार युवक की मौत हो गई है। मृतक युवक की पहचान...

फिर शर्मसार हुई देवभूमि, 12 वर्षीय नाबालिग के साथ दुष्कर्म

ऊना। देवभूमि हिमाचल में अपराध रुकने का नाम ही नहीं ले रहे है। ज़िला ऊना में इंसानियत को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया...